Love shayari :कसूर तो था ही इन निगाहों का,

love Shayari in Hindi

kashoor to tha in nighao ka,
jo chupke se didar kar betha,
hamne to khamos rahne ki thani thi,
par bewefa ye juban izhar kar betha,
love u my Dear

कसूर तो था ही इन निगाहों का,
जो चुपके से दीदार कर बैठा,
हमने तो खामोश रहने की ठानी थी,
पर बेवफा ये ज़ुबान इज़हार कर बैठा,,,, 💕
love u my Dear