Diwali shayari : जैसे दिये और बाती का रिश्‍ता होता है,

जैसे दिये और बाती का रिश्‍ता होता है,
वेसा रिश्‍ता बना लेते है.
बन जाए एक दूजे के लिए,
और दीवाली कुछ ऐसे सज़ा लेते है…….

Jaise diye or baati ka rista hota hai,
waisa rista bana lete hai,
ban jaye ek duje ke liye.
or diwali kuch aise saja lete hai,,,,

“Happy diwali my dear in advance”