Love shayari : वो अपने मेहंदी वाले हाथ मुझे दिखा कर रोई,

Love shayari : वो अपने मेहंदी वाले हाथ मुझे दिखा कर रोई,

Love  Shayari in Hindi

वो अपने मेहंदी वाले हाथ मुझे दिखा कर रोई,
अब मैं हुँ किसी और की, ये मुझे बता कर रोई,
पहले कहती थी कि नहीं जी सकती तेरे बिन,
आज फिर से वो बात दोहरा कर रोई…
कैसे कर लुँ उसकी महोब्बत पे शक यारो…!!
वो भरी महफिल में मुझे गले लगा कर रोई…

wo apne mehandi wale hath muje dikhakar roi
ab me hu kisi aur ki, ye mujhe bata kar roi
pahle khti thi ki nahi ji sakti tere bin
aaj phir se wo bat dohara kar roi
kaise kar lu uski mahobbat par sakh yaro
wo bhari mahafil m mujhe gale lagakar roi

Leave a Reply